वहाँ तूफान भी हार जाते हैं।

मँज़िले बड़ी ज़िद्दी
होती हैँ।
......हासिल कहाँ नसीब
से होती हैं।
......मगर वहाँ तूफान भी
हार जाते हैं।
......जहाँ कश्तियाँ ज़िद
पर होती हैँ।