सदा ही विनम्र रहे।

💐💥🌹 *_॥ प्रभातपुष्प॥_*🌹💥💐    

      *✍🏻लोहा नरम होकर*
            *औजार बन जाता है*
       *सोना नरम होकर*
            *जेवर बन जाता है*
       *मिट्टी नरम होकर*
            *खेत बन जाती है*
       *आटा नरम होता है*
            *तो रोटी बन जाती है*
        *ठीक इसी तरह अगर*
            *इंसान भी नरम हो जाये*
        *तो लोगो की दिलों मे*
            *अपनी जगह बना लेता है।*
🐚☀🐚☀🐚☀🐚☀
*_अभिप्राय- सदा ही विनम्र रहे।😇_*
                     "🐚☀🐚"
                 *"🙏🏻सुप्रभात🙏🏻"*
*"🙏🏻आपका दिन शुभ एवं मंगलमय हो🙏🏻"*
💐💐💐💐💐💐💐💐💐