कृपया उधार ना मांगे

पहले दुकानों पर लिखा होता था :-
आज नगद कल उधार / उधार प्रेम की कैची है /
उधार मांगकर शर्मिंदा ना करे !!
आजकल लिखा है :-
कृपया उधार ना मांगे...
हम ने खुद लोन ले रखा है !!
😀😀😂😀