हर एक शख्स अधूरा ह

न पूरी तरह से क़ाबिल
न पूरी तरह से पूरा है,
हर एक शख्स कहीं न कही से अधूरा है…!!