तुम्हारे सिवा

मुझे क्या पता तुमसे हसीन कोई है भी की नही....
.
.
तुम्हारे सिवा किसी को गौर से देखा ही नही कभी...