कोन कहता है श्रवण जैसा लाल नहीं है

कोन कहता है श्रवण जैसा लाल नहीं है
लाल तो है परन्तु उसकी पहचान बाकी है
अजमेर जिले के रूपमगढ तहसील के कल्याणपुरी निवासी 38 वर्षीय सोहनलाल अपनी माता श्री झुमकी देवी 70 वर्षीय को पालकी मे अपने सिर पर बिठाकर अजमेर से पैदल चल कर रामदेवरा पहुंचा ओर बाबा की समाधी के दर्शन व पुजा अर्चना की
एक बेटा अपनी माताश्री को सिर पर बिठा कर चलता है तो दुसरा बेटा मदनलाल सामान लेकर चलता है
दर्शन करने के बाद सोहन लाल ने बताया कि कल सुबह रामदेवरा से अपनी माताश्री को पालकी मे बिठा कर पुष्कर जी के दर्शन के लिए पैदल रवाना होगा
जय बाबा री , मेहर करना भक्त पर