मिलता ही नहीं तुम्हारे जैसा कोई

मिलता ही नहीं तुम्हारे जैसा कोई और इस शहर में। ।।
हमे क्या मालूम था कि तुम एक हो और वो भी किसी और के....